श्रीदेवी की मौत में छुपे हैं कई गहरे राज़….जानिए, उस रात कमरा नंबर 2201 में क्या-क्या हुआ था?

मुम्बई – उस रात कमरा नंबर 2201 में क्या-क्या हुआ था :  श्रीदेवी की मौत का केस जितना सीधा और सरल शुरु में दिखाई दे रहा था वैसा है नहीं। जैसे-जैसे दिन और घंटे बीत रहे हैं वैसे-वैसे नई-नई बातें सामने आ रही हैं और श्रीदेवी की मौत का रहस्य उलझता जा रहा है। शुरु में कहा जा रहा था कि श्रीदेवी की मौत की वजह कार्डिएक एरेस्ट था। लेकिन, कल शाम को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक अभिनेत्री की मौत होटल के बाथटब में डुबने से हुई। पोस्टमार्टम के मुताबिक उनकी मौत होटल के बाथटब में डूबने से हुई और उनकी बॉडी में काफी मात्रा में एल्होहल भी मिली। लेकिन, अभी भी कुछ ऐसे सवाल हैं जो श्रीदेवी की मौत की गुत्थी को काफी उलझा रहे हैं। जिनके जवाब न मिले तो यह सरल सा दिखने वाला केस एक मर्डर मिस्ट्री भी बन सकता है।

श्रीदेवी की मौत की गुत्थी और तीन सवाल






पहला सवाल – श्रीदेवी 48 घंटों तक कमरे में क्यों बंद रहीं?

दुसरा सवाल –  मौत रात 10 बजे हुई, तो फिर 9 बजे पुलिस वहां कैसे पहुंच गई?

तीसरा सवाल – आखिरी बार श्रीदेवी के साथ कौन था?

ये तीन सवाल हैं जो श्रीदेवी की मौत की गुत्थी को काफी उलझा चुके हैं। पोस्टमॉर्टम से पहले कहा जा रहा था कि श्रीदेवी की मौत कार्डिएक एरेस्ट की वजह से हुई थी। लेकिन, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में वजह कुछ और निकली। अभी तक ये भी साफ नहीं किया गया है कि आखिरी बार श्रीदेवी को किसने देखा था और अस्पताल ले जाते वक्त उनके साथ कौन-कौन था?

क्या है कमरा नंबर 2201 का रहस्य

दुबई के जुमैरा एमिरेट्स टावर होटल के कमरा नंबर 2201 में श्रीदेवी ने 24 फरवरी यानी गुरूवार की दोपहर को चेक इन किया। इसके बाद किसी ने उन्हें अगले 48 घंटों तक कमरे से बाहर निकलते नहीं देखा। वो इस दौरान अकेली रहीं। इसके बाद इस कमरे से उनकी मौत की खबर सामने आई। अपने पति बोनी कपूर के भांजे की शादी में शरीक होने पहुंची श्रीदेवी के लिए कमरा नंबर 2201 बुक किया गया था। जैसे ही शादी खत्म हुई बोनी कपूर और उनकी छोटी बेटी मुंबई लौट आए और श्रीदेवी वहीं रुक गईं। होटल स्टाफ के मुताबिक, श्रीदेवी 48 घंटे तक होटल के अपने कमरे में अकेली रही।

उस रात क्या-क्या हुआ था, श्रीदेवी कमरा नंबर 2201?





यूपी के इनवेस्टर समिट में शामिल होने के बाद बोनी कपूर 24 फरवरी को दोपहर की फ्लाइट से वो वापस दुबई जाने के लिए निकले जिसके बारे में श्रीदेवी भी नहीं जानती थी। लेकिन, अभी तक होटल के कमरे के अंदर जो कुछ हुआ उसकी दो कहानी है। पहली कहानी ये है कि बोनी कपूर ने होटल के कमरे में पहुंचकर उन्हें बाहर डिनर पर ले जाने के लिए कहा और वो तैयार होने के लिए बाथरूम गई। करीब पंद्रह मिनट बाद जब बोनी कपूर ने दरवाजा खोला तो श्रीदेवी अंदर बाथटब में बेहोश पड़ी थीं। इसके बाद बोनी कपूर पहले अपने एक दोस्त को फोन किया। होटल के कमरे की दूसरी कहानी ये है कि जिस वक्त श्रीदेवी बाथरूम में गईं तब बोनी कपूर होटल में ही नहीं थे और होटल के किसी स्टाफ ने उन्हें बाथटब में बेहोश देखा था।

खैर, इन दोनों कहानियों और ऊपर दिये गए सवालों ने श्रीदेवी की मौत की गुत्थी को उलझा दिया है। सच क्या है? ये कोई नहीं जानता। लेकिन, शायद दुबई पुलिस सच का पता लगाने के लिए ही इस मामले में हर पहलु की जांच कर रही है ताकि सच सामने आ सके।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *